उत्तराखंड: इस बार रावण अकेले जलाएगा, वह भी सिर्फ इतने पैरों में

उत्तराखंड: इस बार रावण अकेले जलाएगा, वह भी सिर्फ इतने पैरों में


देहरादून: देहरादून के परेड ग्राउंड का दशहरा मेला राज्य का सबसे बड़ा दशहरा मेला और रावण दहन माना जाता है। इसे देखने के लिए परेड ग्राउंड में बड़ी संख्या में लोग जुटेंगे। इतनी भीड़ कि परेड ग्राउंड में जगह नहीं मिल सकी। यहां वाहनों की लंबी कतार हुआ करती थी। यहां दशहरे के दिन एक अलग ट्रैफिक प्लान बनाया जाना था। लेकिन, इस बार लोग पहले जैसा नजारा नहीं देखेंगे।

परेड ग्राउंड में आयोजित होने वाला ऐतिहासिक रावण दहन कार्यक्रम इस बार बन्नू स्कूल, रेसकोर्स में होगा। इस बार रावण की ऊंचाई 10 फीट कर दी गई है। रावण के साथ मेघनाथ और कुंभकर्ण के पुतलों का दहन नहीं होगा। दशहरा कमेटी बन्नू बिरादरी समिति के अध्यक्ष संतोष नागपाल ने कहा कि रावण की ऊंचाई पहले 15 से 17 फीट तय की गई थी। अब इसे कम कर दिया गया है।

मेघनाथ और कुंभकर्ण के पुतले नहीं बनाए गए हैं। दर्शकों को भी स्कूल के मैदान में नहीं आने दिया जाएगा। रावण दहन कार्यक्रम को सोशल मीडिया के माध्यम से लाइव दिखाया जाएगा। बन्नू स्कूल में खड़े रावण का पुतला हाथ में एक सैनिटाइजर बोतल लेकर जाएगा। रावण कोरोना से लोगों को बचाने का संदेश देगा।

The submit उत्तराखंड: इस बार अकेले जलेंगे रावण, वो भी ख़बर उत्तराखंड न्यूज़ पर इतने फीट पर दिखे पहले