प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल उत्तराखंड में हाउस टैक्स को सर्किल रेट से जोड़ने का किया विरोध तथा कोरोना काल के हाउस टैक्स को माफ करने का किया अनुरोध

रूडकी:- आज प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल उत्तराखंड द्वारा मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम रुड़की को एक ज्ञापन दिया गया. मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम को संबोधित इस ज्ञापन में प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल उत्तराखंड द्वारा पूर्व में भी मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम रुड़की से निवेदन किया जा चुका है कि कोरोना काल खंड संपूर्ण समाज के लिए बड़ा ही कष्ट पद रहा है जिससे सभी प्रभावित हुए हैं इस कालखंड में व्यापारियों के प्रतिष्ठान पूर्णता बंद रहे हैं जनहित में नगर निगम के द्वारा इस कालखंड का हाउस टैक्स पूर्णता माफ किया जाना अति आवश्यक है इस संदर्भ में मुख्य नगर आयुक्त को प्रेषित पूर्व ज्ञापन पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है.
आज उन्हें प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल अवगत कराना चाहता है कि व्यापारियों का कोरोना काल का हाउस टैक्स जो टैक्स विभाग द्वारा जोड़ कर भेजा जा रहा है अनेक व्यापारियों ने मजबूरी बस जमा भी कराया है परंतु अधिकांश ने जमा भी नहीं कराया है उनके ऊपर बाकी है मुख्य नगर आयुक्त से अनुरोध है की नगर निगम रुड़की इस हाउस टैक्स को पूर्णता माफ करने की कृपा करें तथा टैक्स विभाग को मुख्य नगर आयुक्त निर्देशित कर जमा किए गए हाउस टैक्स को भविष्य में समायोजित करने कराने के आदेश पारित करें.
प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल उत्तराखंड ने सर्किल रेट के हिसाब से हाउस टैक्स लगाने का भी विरोध किया है तथा मुख्य नगर आयुक्त से अनुरोध किया है कि इस व्यवस्था को रुड़की नगर में लागू न किया जाए ज्ञापन के माध्यम से व्यापारियों की बात मुख्य नगर आयुक्त के सामने दृढ़ता के साथ रखी.
आज ज्ञापन देने के अवसर पर अजय गुप्ता, नवीन गुलाटी, आदर्श कपानिया, रामगोपाल कंसल, धीर सिंह, भरत कपूर, सार्थक छाबड़ा, रमेश ओबराय, सरदार सतवीर सिंह, रतन अग्रवाल, वसीम राजा, विक्रांत जैन, गौरव मेंदीरत्ता, व सरदार लखबीर सिंह उपस्थित रहे.